उ0प्र0 की जेलों में हत्याएं आम होने का मामला प्रकाश में

उ0प्र0 की जेलों में हत्याएं आम होने का मामला प्रकाश में

उ0प्र0 की जेलों में हत्याएं आम होने का मामला प्रकाश में

बीसलपुर/पीलीभीत। उ0प्र0 की जेलों में हत्याएं आम होती जा रही है। अभी हाल ही में बागपत जेल में डान मुन्ना बजरंगी हत्याकांड की छींटे प्रदेश सरकार धो नहीं पा रही तो वहीं दूसरा वाक़्या पीलीभीत की जिला जेल से आ रहा है। यहां हत्या के आरोप में जेल में निरूद्व एक कैदी की मौत बीते दिन हुई है।

कैदी की मौत की खबर के बाद आनन-फानन में जिला प्रशासन और पुलिस दोनों ही किसी तरह मामले को दबाने में लगे है। लेकिन परिजनों का कहना है कि मृतक की हत्या जेल के अंदर की गई है। प्रथम दृष्ट्या शव को देखकर हत्या का ही क़यास लगाया जा रहा है। वहीं जेल प्रबंधन इसे स्वभाविक मृत्यु बता रहे है। पुलिस और प्रशासन भी किसी सवाल का जवाब देने में खुद को बेबस दिखा रहा है। मृतक की पुत्री ने कोतवाली थाना पुलिस जिला कारागार पीलीभीत के प्रबंधन पर हत्या का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। वहीं एसपी पीलीभीत का कहना है कि मृत्यु हार्टअटैक से हुई है।

कोतवाली सदर पुलिस को दी तहरीर में मृतक हमेराज की पुत्री कमलेश ने बताया कि वो बीसलपुर कोतवाली क्षेत्र के गांव ईंटारोड़ा के रहने वाले है गांव में करीब दो साल एक हत्या हुई थी जिसके आरोप में उसके पिता 8 दिसंबर 2016 से जेल में बंद थे। आरोप है कि बीते दिन जहां पूरा देश दीपावली बना रहा था तो इस परिवार के ऊपर एक खबर आग बनकर बरसी। परिवार वालों के पास ख़बर पहुँची कि उनके परिवार के मुखिया की मृत्यु हो गई है। जेल प्रबंधन के भेजे पत्र में लिखा था कि मृतक हेमराज की तबियत अचानक खराब हुई जिसके बाद हमेराज को जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां उसकी मृत्यु हो गई। परिवारीजन ख़बर मिलते ही जिला अस्पताल पहुँचे जहां जैसे ही उन्होंने कफ़न उठाकर हेमराज का चेहरा देखा तो चेहरे पर गंभीर चोटों के निशान थे। मृतक हेमराज की नाक बुरी तरह कटी हुई थी, उसकी आंख पर चोट के निशान थे और सर के पीछे से भी खून निकल रहा था। जिसके बाद परिवानीजन आक्रोषित हो गए। उन्होंने जेल प्रशासन पर हेमराज की हत्या का आरोप लगाते हुए विरोध शुरू कर दिया। जिसके बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई के आश्वासन पर परिजन शांत हुए।

एसपी पीलीभीत बालेन्दु भूषण सिंह ने बताया कि हेमराज जोकि एक सज़ायाफ्ता कैदी हेमराज था जिसकी मृत्यु हो गई है और परिजनो का आरोप है कि उसकी हत्या की गई है। एसपी पीलीभीत की माने तो हेमराज की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है और जो उसके चेहरे पर चोटों के निशान मिले है वो इतने गंभीर नहीं कि जिससे किसी की मृत्यु हो जाये। आगे की कार्रवाई पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही होगी।
मोहम्मद आरिफ ब्यूरो चीफ
उत्तर प्रदेश

बीबीसी लाईव

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account