ताजा खबर :

पुलिस एवं राजस्व अधिकारियों की कार्यशाला आयोजित

पुलिस एवं राजस्व अधिकारियों की कार्यशाला आयोजित

पुलिस एवं राजस्व अधिकारियों की कार्यशाला आयोजित

बीबीसी लाइव कोरिया छत्तीसगढ़-
कोरिया, 10 अक्टूबर 2018/ विधानसभा निर्वाचन 2018 के परिपे्रक्ष्य में पुलिस एवं राजस्व अधिकारियों की कार्यशाला आज जिला पंचायत कोरिया के सभाकक्ष में जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर श्री नरेन्द्र कुमार दुग्गा के मार्गदर्शन में आयोजित हुआ। कार्यशाला में वीडियो निगरानी टीम, वीडियो अवलोकन टीम, लेखा टीम, फ्लाइंग स्क्वाड टीम, स्थैतिक निगरानी दल एवं जिला स्तरीय व्यय निगरानी समिति के प्रभारी अधिकारी सहित राजस्व एवं पुलिस प्रषासन के अधिकारी एवं उनके सहयोगी शामिल हुए।
कलेक्टर श्री दुग्गा ने कार्यशाला में कहा है कि राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारी आपसी समन्वय से निर्वाचन कार्य करेंगे। विधानसभा निर्वाचन-2018 के तहत मतदाताओं को डराने-धमकाने सहित प्रलोभन देने के लिए रिश्वत या अन्य सामग्री प्रदान करने की सूचना या शिकायत भारत निर्वाचन आयोग के सीविजील एप्प या टोल फ्री नंबर के साथ सामान्य प्रेक्षक अथवा व्यय प्रेक्षक के मोबाईल नंबर पर किया जा सकता है। इसके संबंध में आम नागरिकों को जानकारी देने के निर्देष दिये। जिले की सीमावर्ती क्षेत्र एंव प्रवेष मार्गो पर विभिन्न्ा विभागों, जैसे- वन विभाग, मंडी, टोल टैक्स के पूर्व से स्थापित नाके में पुलिस बल लगाकर अधिक सुदृढ़ किया जाये। जिन मार्गो पर कोई बैरियर न हो तो ऐसे मार्ग पर लोक निर्माण विभाग की सहायता से सुदृढ़ नाके पुलिस विभाग द्वारा कायम किये जाएं। नाके पर जिले के अन्दर प्रवेष करने वाले वाहनों की सघन चेकिंग किया जाना आवष्यक है। बैरियर में पुलिस कर्मी की तैनाती के साथ-साथ एक पंजी भी रखी जाय। पंजी में जाॅच किये गये वाहनों का नम्बर, वाहन मालिक का नाम, ड्राइवर का नाम तथा आने वाले एंव जाने वाले वाहन का विवरण दर्ज किया जायेगा। जाॅच के दौरान वाहन से जप्त की गयी अवैध शराब, हथियार, विस्फोटक पदार्थ का पूरा विवरण दर्ज किया जावेगा।
निर्वाचन अवधि में विभिन्न प्रत्याषियों अथवा राजनैतिक दलों द्वारा कई स्थानों पर जुलूसों और आम सभा का आयोजन किया जाता है। आदर्ष आचरण संहिता का पालन करते हुए आयोजकों को ऐसे जुलूस तथा आमसभा के आयोजन के पूर्व सक्षम प्राधिकारी से पुर्व अनुमति लेनी होगी। आयोजकों के द्वारा ऐसे आवेदन पत्र थाना प्रभारी को प्रस्तुत किया जावेगा। थाना प्रभारी आवेदन प्राप्त होते ही उसके ऊपर आवेदक का नाम समय तथा तिथि इन्द्राज करेंगे और आदेष हेतु सक्षम अधिकारी को प्रस्तुत करेंगे। जुलूस तथा आम सभा के लिये अनुमति देते समय इस बात का ध्यान रखा जाये कि ऐसी अनुमति देने से उस क्षे़त्र में कानून व्यवस्था की स्थिति में बाधा तो उत्पन्न नहीं होगी। भारत निर्वाचन आयोग ने लाऊड स्पीकर के उपयोग पर नियंत्रण रखने हेतु आदेष प्रसारित किये हैं जिसके अनुसार सक्षम अधिकारी की लिखित अनुमति प्राप्त किये बिना कोई भी राजनैतिक दल का व्यक्ति अभ्यर्थी, निर्वाचक अभिकर्ता या कार्यकर्ता लाऊड स्पीकर का उपयोग नहीं कर सकता हैै।
जिले में स्थित विश्राम गृहों के आरक्षण हेतु अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसीलदारों को अधिकृत किया गया है। इस संबंध में पृथक से निर्देष जारी किये गये हैंै। समस्त अनुविभागीय दण्डाधिकारी एवं तहसीलदार यह ध्यान रखेंगे कि जिला मुख्यालय के सर्किट हाऊस में तथा तहसील मुख्यालय पर एवं अन्य जगह स्थित रेस्ट हाऊस में आवष्यकतानुसार चुनाव पर्यवेक्षकों एवं चुनाव कार्य से जुड़े हुए अधिकरियों के लिये कमरा आरक्षित रखा जावे। भारत निर्वाचन आयोग ने यह निर्देष दिये हैं कि निर्वाचन के दौरान होने वाली महत्वपूर्ण घटनाओं का वीडियोग्राफी की जावे। आपको यह सुनिष्चित करना है कि आपके क्षेत्र में निर्वाचन के दौरान घटित होने वाले महत्वपूर्ण,  क्रिटिकल घटनाओं जैसे- हिंसा पथराव सम्पत्ति का बर्बाद करना बूथ कैपचरिंग करना, मतदाता को धमकाना, प्रलोभन देना, मतदान केन्द्र के 100 मीटर के अन्दर मतयाचना करना, बडे़-बड़े कटआऊट का प्रदर्षन करना आदि का वीडियोग्राफी आवष्यक रूप से की जावे। जिले के पुलिस अधीक्षक श्री विवेक षुक्ला ने भी कार्यषाला में पुलिस विभाग की ओर से विधानसभा निर्वाचन के संबंध में किये जा रहे कार्यों का संक्षिप्त विवरण दिया। तत्पष्चात जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती तुलिका प्रजापति ने आदर्ष आचरण संहिता एवं निर्वाचन के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री आर.ए.कुरूवंषी एवं उप जिला निवार्चन अधिकारी श्री जे.एन.वर्मा भी मौजूद थे।

बीबीसी लाईव

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account