गरीबों के जीवन में आया व्यापक परिवर्तन -मुख्यमंत्री डाॅ रमन सिंह देष में सबसे अधिक धान की कीमत दी जाती है छत्तीसगढ़ में कोटाडोल को पूर्ण तहसील का दर्जा देने की घोषणा भरतपुर में अटल विकास यात्रा में पहुंचे मुख्यमंत्री

गरीबों के जीवन में आया व्यापक परिवर्तन -मुख्यमंत्री डाॅ रमन सिंह देष में सबसे अधिक धान की कीमत दी जाती है छत्तीसगढ़ में कोटाडोल को पूर्ण तहसील का दर्जा देने की घोषणा भरतपुर में अटल विकास यात्रा में पहुंचे मुख्यमंत्री

गरीबों के जीवन में आया व्यापक परिवर्तन -मुख्यमंत्री डाॅ रमन सिंह देष में सबसे अधिक धान की कीमत दी जाती है छत्तीसगढ़ में कोटाडोल को पूर्ण तहसील का दर्जा देने की घोषणा भरतपुर में अटल विकास यात्रा में पहुंचे मुख्यमंत्री

छत्तीसगढ़-बीबीसी लाइव-
कोरिया 25 सितम्बर 2018/ मुख्यमंत्री डाॅ रमन सिंह आज अटल विकास यात्रा के दौरान हेलीकाॅप्टर से  कोरिया जिले के आदिवासी बहुल विकासखंड भरतपुर पहुंचे। उन्होने अपार जनसमूह का अभिवादन करते हुए कहा कि मां बम्लेष्वरी के आषीर्वाद से प्रारंभ यह अटल विकास यात्रा आज कोरिया जिले के मंा चांग देवी की पावन धरा पहुंची है। यह यात्रा जनता की विष्वास की यात्रा है। इस यात्रा से उन्हें जनता का आषीर्वाद मिल रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी ने छत्तीसगढ राज्य का निर्माण किया। उनके स्मृति में इस  यात्रा को अटल विकास यात्रा नाम दिया गया है। राज्य निर्माण के समय छत्तीसगढ़ में भूख और पलायन का दौर था। हमारी सरकार ने पिछले  15 साल में छत्तीसगढ को विकसित राज्य बनाने के लिए जो विकास की मजबूत नींव बनायी। उससे आज गांव, गरीब और किसानों के चेहरों में खुषहाली आयी है। छत्तीसगढ़ षासन द्वारा गरीबों के लिए योजनाएं बनायी, एक रूपये किलो में गरीबों को चावल दिया, उज्जवला योजना के माध्यम से गैस कनेक्षन, प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से पक्के आवास, स्मार्ट कार्ड के माध्यम से निःषुल्क इलाज की सुविधा, सडक पुल-पुलियों, अधोसंरचनाओं का व्यापक निर्माण किया। इससे गरीबों के जीवन में व्यापक परिवर्तन आया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पुराने भरतपुर और आज के भरतपुर में जमीन आसमान का अंतर है। भरतपुर करवट बदल रहा है। यहां चैतरफा विकास हुआ है। स्वास्थ्य, षिक्षा सहित आवागमन के लिए बड़े पैमाने पर पुल-पुलियों का निर्माण और सडकों का जाल बिछा है। सौर सुजला योजना, बिना ब्याज के कृशि ऋण, समर्थन मूल्य पर धान खरीदी, धान एवं तेंदूपत्ता की बोनस की राषि ने किसानों के चेहरों पर नई मुस्कान ला दी है और अब वे कंधा से कंधा मिलाकर राज्य के विकास में सहभागी बन रहे है।
मुख्यमंत्री के पहुंचने पर स्वागत के लिए बड़ी संख्या में लोगों का सैलाब उमड़ पड़ा। लोक नृत्य, संगीत और परम्परागत तरीकों से मुख्यमंत्री का जोरदार अभिनंदन किया।
मुख्यमंत्री डाॅ सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने ‘‘अटल दृश्टि‘‘ के माध्यम से बडी सेाच और बड़ी कल्पना के साथ राज्य निर्माण के रजत जयंती वर्श 2025 तक छत्तीसगढ़ को आधुनिक विकसित और स्मार्ट बनाने का लक्ष्य बनाया है।  उन्होंने ने कहा कि पहले बीमारी होने पर लोगों को घर तक गिरवी रखना पडता था। छत्तीसगढ सरकार ने प्रदेष के सभी लोगों के लिए स्मार्ट कार्ड के माध्यम से साल में 50 हजार रूपये तक निःषुल्क इलाज की व्यवस्था की है। इससे आगे बढ़कर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आजादी के बाद देष में पहली बार एक व्यापक और बड़ी स्वास्थ्य योजना ‘‘आयुश्मान भारत योजना‘‘ जनता को दी है। इस योजना के तहत पात्र लोगों और परिवारों को एक साल में 5 लाख रुपए तक का इलाज चिन्हित अस्पतालों में मिलेगा। उन्होंने कहा कि इससे लिवर, हार्ट, कैंसर, बे्रन आदि की जटिल से जटिल बीमारी का भी निःषुल्क इलाज हो सकेगा। अब लोगों को चिकित्सा मदद के लिए किसी के सामने हाथ फैलाने की जरूरत नहीं होगी और न ही अपने घर-जमीन बेचने की नौबत आएगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी एक नवम्बर से षुरू हो जाएगी। किसानों को इस बार धान खरीदी के साथ-साथ उनकी बोनस राषि का तत्काल भुगतान भी किया जाएगा। केंद्र शासन द्वारा बढ़ाये गये 200 रुपए के समर्थन मूल्य और राज्य शासन द्वारा स्वीकृत तीन सौ रूपए बोनस राशि को मिलाकर किसानों को इस साल कामन धान के लिए 2050 रुपए प्रति क्ंिवटल और पतला धान के लिए 2070 रुपए क्विंटल का भुगतान किया जाएगा। यह राशि देश में किसी भी राज्य द्वारा किसानों को समर्थन मूल्य पर दिये जाने वाले बोनस राशि में सबसे अधिक है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला सषक्तिकरण को बढ़ावा देते हुए 40 लाख महिलाओं को स्मार्ट फोन प्रदान किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले इंदिरा आवास योजना के तहत कच्चे मकान बनाए जाते थे, लेकिन अब प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पक्के मकान बनाए जा रहे हैं और वर्श 2022 तक सभी गरीब परिवारों का पक्के मकान का सपना साकार होगा। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गरीब लोगों को प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत गैस कनेक्षन प्रदान कर उन्हें चुल्हे के ध्रुंए और लकडी की चिंता से मुक्ति दी है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कोटाडोल को पूर्ण तहसील का दर्जा देने की घोषणा की । उन्होने कहा कि 10 हजार जनसंख्या का प्रमाण पत्र देने पर जनकपुर को तत्काल नगर पंचायत का दर्जा भी दिया जायेगा। उन्होने जनकपुर में सामुदायिक शेड के लिए 10 लाख रूपये दिये जाने की घोषणा करते हुए मुक्तिधाम और शव वाहन की स्वीकृति भी प्रदान की।
 इस अवसर पर प्रदेष के श्रम, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री भईयालाल राजवाड़े़ ने कहा कि भरतपुर क्षेत्र जिसे पहले लोग काला पानी कहा करते थे, अब यह हीरा पानी के रूप में बदल गया है। पहले जहां यहां आने की दिनभर का समय लग जाता था, अब दो-तीन घंटे में ही पहुंचा जा सकता है।
संसदीय सचिव एवं भरतपुर-सोनहत क्षेत्र की विधायक श्रीमती चंपादेवी पावले ने कहा कि मुख्यमंत्री डाॅ रमन सिंह हमेषा गरीबों के उत्थान के लिए चिंतित रहते हंै। गरीबों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाओं का संचालन कर उन्हें आर्थिक रूप से संबल बनाने का कार्य किया । भरतपुर क्षेत्र में  षिक्षा स्वास्थ्य, सड़क, पुल-पुलिया आदि विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य किये गये हैं।
कलेक्टर श्री नरेन्द्र कुमार दुग्गा ने प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि जिले में महिला सशक्तिकरण, महिला स्वरोजगार, कुपोषण से मुक्ति जैसे विशेष कार्यों के साथ-साथ लगभग 1490 करोड़ रूपये के विकास कार्य कराये गये हैं।
इस अवसर पर मनेन्द्रगढ़ क्षेत्र के विधायक श्री ष्याम बिहारी जायसवाल, जिला पंचायत कोरिया के सदस्य श्री देवेन्द्र तिवारी, पूर्व विधायक श्री फुल चंद्र सिंह, नगर पालिका परिशद बैकुण्ठपुर के पूर्व अध्यक्ष द्वय श्री षैलेश षिवहरे एवं श्री तीरथ गुप्ता, कोरिया के पुलिस अधीक्षक श्री विवेक शुक्ला सहित बडी संख्या ग्रामीणजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन जिला लोक शिक्षा समिति के जिला परियोजना अधिकारी श्री उमेश जायसवाल ने किया।

बीबीसी लाईव

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account