सीसीएल की 17 कोयला खनन परियोजनाएं लटकीं

सीसीएल की 17 कोयला खनन परियोजनाएं लटकीं

सीसीएल की 17 कोयला खनन परियोजनाएं लटकीं

नई दिल्ली /झारखंड 

सगीना महतो-

सरकारी कोयला कंपनी कोल इंडिया की इकाई ccl की 4,095.5 करोड़ रुपये की 21 खनन परियोजानओं में से 17 परियोजनाओं को देरी का सामना करना पड़ रहा है। हरित मंजूरी नहीं मिलने समेत अन्य कारणों की वजह से ये परियोजनाएं लटकी हुई हैं।

सेंट्रल कोलफील्ड्स लिमिटेड (सीसीएल) ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट 2017-18 में कहा कि 21 परियोजनाओं में से पारेज ईस्ट और हुरीलोंग परियोजना पर्यावरण और वन मंजूरी नहीं मिलने के कारण शुरू नहीं हो सकी है। इसमें कहा गया है कि कल्याणी ओपन कास्ट परियोजना को हरित मंजूरी मिलने के बाद शुरू किया जाएगा। शेष बची 18 परियोजनाओं में से, आम्रपाली ओसीपी समय से चल रही है और बाकी 17 परियोजनाएं भूमि प्रमाणन, वन मंजूरी, पर्यावरण, कोयला निकासी की समस्या, पुनर्वास मुद्दे और सुरक्षा चिंताओं समेत अन्य कारणों के चलते देरी से चल रही हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 31 मार्च, 2018 तक सीसीएल के अधीन 11.28 करोड़ टन स्वीकृत क्षमता के साथ 21 परियोजनाएं चल रही हैं और 34 परियोजनाएं पूरी चुकी हैं। चल रही परियोजनाओं की स्वीकृत पूंजी 4,095.5 करोड़ रुपये जबकि पूरी हो चुके परियोजानओं की स्वीकृत पूंजी 3,023.21 करोड़ रुपये है।

बीबीसी लाईव

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account