ताजा खबर :

रमन और जोगी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे कांग्रेस के 33 उम्मीदवारों ने दिखाई अपनी दावेदारी

रमन और जोगी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे कांग्रेस के 33 उम्मीदवारों ने दिखाई अपनी दावेदारी

रमन और जोगी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे कांग्रेस के 33 उम्मीदवारों ने दिखाई अपनी दावेदारी

अब्दुल सलाम क़ादरी- बीबीसी लाइव छत्तीसगढ़-

प्रदेश की सबसे हाईप्रोफाईल सीट राजनांदगांव विधानसभा से मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह और जोगी कांग्रेस के संयोजक पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के खिलाफ कांग्रेस की टिकट से चुनाव लड़ने के लिए 33 दावेदार सामने आए है। चुनाव लड़ने के लिए थोक में दावेदारी के सामने आने से प्रत्याशी चयन प्रक्रिया में काफी खींचतान होने के हालात भी निर्मित होने के आसार है।  प्रदेश के मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह की विस सीट से चुनाव लड़ने के लिए कांग्रेस नेताअेां ने अच्छा खासा उत्साह दिखाया है। हालात यहां तक निर्मित हो गए है कि विस से अधिकांश नेताओं ने चुनाव लड़ने की दावेदारी कर कांग्रेस संगठन को भी सकते में डाल दिया है। वरिष्ठ नेताओं से लेकर ग्रामीण इलाको में सक्रिय रहे नेताओं के नाम सामने आने से पशोपेश की स्थिति निर्मित होने की आशंका भी जताई जा रही है।पिछले एक अगस्त से शुरू हुई इस प्रक्रिया में 39 कांग्रेस नेताओं ने आवेदन लिया था। आवेदन जमा करने के अंतिम दिन मंगलवार को शाम साढ़े पांच बजे तक 33 दावेदाराें ने अपनी दावेदारी पेश की है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता श्रीकिशन खंडेलवाल, शहर कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष जीतू मुदलियार, नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष हफीज खान, युवा कांग्रेस नेता निखिल द्विवेदी, ग्रामीण ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोवर्धन देशमुख, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष सुरेन्द्र वैष्णव, कुलबीर छाबड़ा, पोषण यादव, रूपेश दुबे, नरेश शर्मा, हेमंत ओस्तवाल, शरद चितलांग्या, भरत सोनी, सुजीत दत्ता,बसंत बहेकर, शारदा तिवारी, मोतीराम साहू, रमेश राठौर, प्रमोद बागड़ी, मन्ना यादव, तथागत पांडे, प्रशांत तिवारी, प्रणव दास, सिद्वार्थ डोंगरे, हेमा देशमुख, चंद्रभान बाजपेयी, रमेश पांडे, बृजेश श्यामकर, चंद्रकुमार साहू, विकास गजभिए, महेन्द्र शर्मा तथा तुकज साहू ने आवेदन जमा कर अपनी दावेदारी रखी है।

प्रदेश की सबसे हाईप्रोफाईल सीट राजनांदगांव विधानसभा से मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह और जोगी कांग्रेस के संयोजक पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के खिलाफ कांग्रेस की टिकट से चुनाव लड़ने के लिए 33 दावेदार सामने आए है। चुनाव लड़ने के लिए थोक में दावेदारी के सामने आने से प्रत्याशी चयन प्रक्रिया में काफी खींचतान होने के हालात भी निर्मित होने के आसार है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह की विस सीट से चुनाव लड़ने के लिए कांग्रेस नेताअेां ने अच्छा खासा उत्साह दिखाया है। हालात यहां तक निर्मित हो गए है कि विस से अधिकांश नेताओं ने चुनाव लड़ने की दावेदारी कर कांग्रेस संगठन को भी सकते में डाल दिया है। वरिष्ठ नेताओं से लेकर ग्रामीण इलाको में सक्रिय रहे नेताओं के नाम सामने आने से पशोपेश की स्थिति निर्मित होने की आशंका भी जताई जा रही है।पिछले एक अगस्त से शुरू हुई इस प्रक्रिया में 39 कांग्रेस नेताओं ने आवेदन लिया था। आवेदन जमा करने के अंतिम दिन मंगलवार को शाम साढ़े पांच बजे तक 33 दावेदाराें ने अपनी दावेदारी पेश की है।
वरिष्ठ कांग्रेस नेता श्रीकिशन खंडेलवाल, शहर कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष जीतू मुदलियार, नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष हफीज खान, युवा कांग्रेस नेता निखिल द्विवेदी, ग्रामीण ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोवर्धन देशमुख, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष सुरेन्द्र वैष्णव, कुलबीर छाबड़ा, पोषण यादव, रूपेश दुबे, नरेश शर्मा, हेमंत ओस्तवाल, शरद चितलांग्या, भरत सोनी, सुजीत दत्ता,बसंत बहेकर, शारदा तिवारी, मोतीराम साहू, रमेश राठौर, प्रमोद बागड़ी, मन्ना यादव, तथागत पांडे, प्रशांत तिवारी, प्रणव दास, सिद्वार्थ डोंगरे, हेमा देशमुख, चंद्रभान बाजपेयी, रमेश पांडे, बृजेश श्यामकर, चंद्रकुमार साहू, विकास गजभिए, महेन्द्र शर्मा तथा तुकज साहू ने आवेदन जमा कर अपनी दावेदारी रखी है।
सोर्स हरिभूमि दिल्ली

बीबीसी लाईव

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account