ताजा खबर :

नियम कायदों को ताक पर रखकर हो रहा टॉवरों का संचालन

नियम कायदों को ताक पर रखकर हो रहा टॉवरों का संचालन

नियम कायदों को ताक पर रखकर हो रहा टॉवरों का संचालन

क्षेत्र में मोबाईल कंपनी के संचालक उड़ा रहे नियमों की धज्जियॉ
छत्तीसगढ़, मनेन्द्रगढ़। जिले के विभिन्न शहरी और ग्रामीण ईलाकों में नियम कायदों को ताक पर रखकर विभिन्न मोबाईल कंपनियों के विशालकाय टॉवर लगा दिये गये हैं जो कभी भी किसी बड़े हादसे का सबब बन सकते हैं। इसके अलावा कई टॉवर तो स्कूलों और अस्पतालों के पास लगाये गये हैं। हैरत वाली बात तो यह है कि यह क्रम लगातार जारी है जिससे ऐसा लगता है कि मोबाईल कंपनियों के संचालकों को किसी का कोई भय नही है।
मनेन्द्रगढ़, जनकपुर, केल्हारी खोंगापानी समेत जिले भर में १०० से अधिक मोबाईल टॉवर लगे हुये हैं इनमें से अधिकांश टॉवर नियम विरूद्ध तरीके से संचालित है। नियमानुसार शहरी क्षेत्र में लगाये जाने वाले टॉवरों को संबंधित नगरीय निकाय से एनओसी प्राप्त करना चाहिये। साथ ही निकायों द्वारा निर्धारित मासिक शुल्क भी अदा करना चाहिये। लेकिन निकायवार नगर निगम क्षेत्र में विभागीय कर्मचारियों की मिलीभगत से जहां नियमों की धज्जियॉ उड़ाकर अनुमति दी गई है वहीं स्वयं की जेब भरकर शासन को लाखों रूपये के राजस्व की क्षति पहुंचाई जा रही है। कोरिया जिले में सबसे अधिक बदत्तर स्थिति नगर निगम चिरमिरी और मनेन्द्रगढ़ की देखी जा रही है। चिरमिरी में जहां क्षेत्रीय चिकित्सालय कुरासिया के पास मोबाईल टॉवर लगाया गया है वहीं वेस्ट चिरमिरी में हाईस्कूल से सटाकर नियम विरूद्ध तरीके से मोबाईल टॉवर खड़ा किया गया है। उल्लेखनीय है कि इस स्थान पर टॉवर लगाने का विरोध क्षेत्र के पार्षदों और नागरिकों ने किया था लेकिन लोगों के विरोध की परवाह किये बिना मनमाने तरीके से वहां टॉवर लगा दिया गया। मोबाईल टॉवर की घातक किरणों से जहां स्कूलों व अस्पतालों में आने जाने वाले छात्र छात्राओं, मरीजों के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है वहीं रेडिएशन के करीब रहने वाली आबादी पर यह धीमे जहर के रूप में कार्य कर रहा है।
क्षेत्र के लोगों ने कलेक्टर कोरिया से मांग करते हुये कहा है कि क्षेत्र में लगे हुये व लगाये जा रहे मोबाईल टॉवरों की अनुमति के संबंध में विशेष जांच दल बनाये जायें वहीं वे जिले भर में स्वयं निरीक्षण कर नियम विरूद्ध तरीके से चल रहे मोबाईल टॉवरों के संचालन की अनुमति देने वाले निकायों के कर्मचारियों व अधिकारियों तथा टॉवर संचालकों के विरूद्ध अपराधिक मामला दर्ज करें।

बीबीसी लाईव

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account