ताजा खबर :

उत्तरप्रदेश में तूफान का कहर, 38 की मौत, 50 से ज्यादा घायल 

उत्तरप्रदेश में तूफान का कहर, 38 की मौत, 50 से ज्यादा घायल 

उत्तरप्रदेश में तूफान का कहर, 38 की मौत, 50 से ज्यादा घायल 

लखनऊ। उत्तरप्रदेश के विभिन्न जिलों में 13 और 14 मई की दरमियानी रात को आए आंधी तूफान में कम से कम 38 लोगों की मौत हो गई जबकि 50 लोग घायल हुए हैं। तेज हवाएं चलने से प्रदेशभर में कई स्थानों पर पेड़ गिरने की खबर हैं।
  सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि कल रात आए अंधड़ और बारिश के कारण सबसे ज्यादा छह लोगों की मौत कासगंज जिले में हुई है। जबकि बरेली और बाराबंकी में पांच-पांच लोगों की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि इस आंधी से 177 मकानों को नुकसान पहुंचा है।
 बाल-बाल बचीं हेमा मालिनी :उत्तर प्रदेश के मथुरा से भाजपा सांसद हेमा मालिनी रविवार को उस समय बाल-बाल बच गईं जब आंधी-तूफान की वजह से एक पेड़ अचानक उनके काफिले के आगे गिर गया। यह घटना उस समय हुई जब हेमा मालिनी एक गांव में सभा को संबोधित करके लौट रही थीं। गनीमत रही कि खराब मौसम को देखते हुए सतर्क होकर वाहन चला रहे उनके चालक ने पेड़ से टकराने से पहले ही ब्रेक लगाकर गाड़ी को नियंत्रित कर लिया। उसके बाद सांसद के सुरक्षाकर्मियों एवं कार्यकर्ताओं ने मिलकर पेड़ हटाकर रास्ता साफ किया।
सम्भल में जले 25 मकान :अंधड़ के दौरान जिले के एक गांव में कचरे के ढेर में सुलग रही आग भड़क उठी जिससे करीब 25 मकान और कई मवेशी जल गए। एक अन्य घटना में ट्रैक्टर ट्राली पर पेड़ गिरने से एक किशोर की मौत हो गई जबकि कई लोग घायल हो गए।
ये आंधी-तूफान तो शुरूआत हैं, आने वाली है कयामत
टला नहीं है तूफान का खतरा :भयंकर आंधी-तूफान का खतरा अभी टला नहीं है। मौसम का कहर आज और कल भी आपको परेशान कर सकता है। मौसम विभाग ने आंधी-तूफान को लेकर 14 और 15 मई की भी चेतावनी जारी की है।

बीबीसी लाईव

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account